गुरुवार, 29 अप्रैल 2010

एक छोटे से कमरे में आप क्या क्या बना सकते हैं?

एक छोटे से कमरे में आप क्या क्या बना सकते हैं? गेरी चांग नें एक छोटे से कमरे में रसोई, बैठक, सोने का कमरा, नहाने का टब और हाँ होम थियेटर भी बना लिया| यह कमरा कुल चौबीस रूपों मे बदल सकता है| इस वीडियो को देखिए:

सोमवार, 26 अप्रैल 2010

हिन्दी में प्रोग्रामिंग : एक प्रयोग

आप सभी तो जानते ही होंगे कि कम्प्यूटर केवल १ और ० की भाषा समझता है। चूंकि कम्प्यूटर के क्षेत्र में सारा विकास पश्चिम में हुआ अत: इसकी उच्च स्तरीय भाषाएं अंग्रेजी में ही बनी।
आज मैं एक प्रयोग करके देख रहा था। और मजा भी आया। यद्यपि सभी उच्च स्तरीय भाषाएं अंग्रेजी में ही हैं। पर अपन यदि हिन्दी भी उसमें घुसेड़ दें तो?
ये देखिए विजुअल सी शार्प में हिन्दी भाषा में क्लासें, आब्जेक्ट और मेथड।
ये प्रोग्राम बिना किसी दिक्कत के काम किया।
यानि कि हम चाहें तो अपने साफ़्टवेयर के स्रोत कोड की क्लास लाइब्रेरियों को चाहें तो हिन्दी में रख सकते हैं। अब ये तो अपनी अपनी सुविधा है कि हम किस भाषा का प्रयोग करते हैं। पर हिन्दी का भी विकल्प होने से काफी अच्छा महसूस हो रहा है।

शुक्रवार, 23 अप्रैल 2010

एक ओर पानी की किल्लत है और दूसरी ओर लोग सड़कों को नहला रहे हैं

आजकल देखता हूं कि हमारे मुहल्ले का करीब करीब हर परिवार सुबह या शाम को पाइप से पूरी सड़क नहलाने में लगा रहता है। मुझे गर्मी में ऐसा करना बिल्कुल ही अजीब लगता है। क्या लोगों को पानी की कीमत नही पता है? सड़क को पानी से नहलाकर वो कितनी देर तक ठंडक पैदा कर लेंगे?
अभी तक मैंने अपनी गली के लोगों को ऐसा करते देखता था आज तो हद उस समय हो गई जब मैंने मुख्य सड़क को नहलाते हुए देखा, जिसपर लगातार मोटर गाड़ियां आ जा रही थीं।
एक ओर लोग प्यासे मर रहे हैं और दूसरी ओर लोग इस प्रकार पानी बर्बाद कर रहे हैं।

यदि आपको कोई इसका सही कारण पता हो तो बताएं। वैसे गर्मी में जब पानी की कमी हो जाती है ऐसे में मुझे यह एक बेहद घटिया काम लग रहा है।

सोमवार, 5 अप्रैल 2010

हिन्दी को चाहिए खूबसूरत फॉन्ट

मैं जब से कम्प्यूटर के क्षेत्र में हूँ तब से हिन्दी के लिए एक ही फॉन्ट देखता आ रहा हूँ : "कृति देव"।
अंग्रेजी में ग्राफिक डिजाइनिंग आदि का काम करना हो तो एक से एक खूबसूरत फॉन्ट मिल जाते हैं परंतु हिन्दी के लिए उतने ही प्रकार के फॉन्ट नही मिल पाते हैं।
कृतिदेव में कोई कमी नही है, परंतु ये पर्याप्त नही है। यानि कि और भी विभिन्न प्रकार के फौन्ट बनने चाहिए।

इसी प्रकार अंग्रेजी में वेबसाइट बनाना हो तो Arial, Verdana, Times, Georgia आदि फॉन्टों से साइट जोरदार दिखने लगती है परंतु हिन्दी में हमें कम्प्यूटर में मौजूद डिफाल्ट हिन्दी फॉन्ट जैसे कि "मंगल" आदि से काम चलाना पड़ता है।

यदि आपकी जानकारी में अन्य आकर्षक हिन्दी फॉन्ट हों तो मुझे भी बताएं। ग्राफिक डिज़ाइनरों से भी मेरा अनुरोध है कि वो इस दिशा में भी थोड़ी पहल करें।

[अद्यतन]
अभी अभी मुझे पता लगा कि विंडोज़ ७ में तीन नये हिन्दी फौन्ट शामिल हुए हैं: अपराजिता, कोकिला एवं उत्साह। इससे निश्चित रूप से हिन्दी वेबसाइटों को और भी खूबसूरती मिलेगी क्योंकि विंडोज़ में पहले से ही उपस्थित होने की वजह से ज्यादातर लोगों को दिखाई देंगे।