शनिवार, 27 मार्च 2010

“अंतरजाल डाट इन – तकनीक” चिट्ठे का शुभारंभ

सूचना और तकनीक आधारित अंतरजाल डाट इन http://www.antarjaal.in वेबसाइट शुरू की जा रही है। अभी इस साइट में तकनीक (http://blogs.antarjaal.in/takneek/) नामक चिट्ठे का प्रकाशन किया जाएगा। इस चिट्ठे पर आप विंडोज़, लिनक्स तथा इंटरनेट पर लेख, नुस्खे, मुफ्त डाउनलोड आदि पाएंगे।

image

इस चिट्ठे यानि कि ankurthoughts (अंकुर गुप्ता का हिन्दी ब्लाग) को बंद तो नही किया जाएगा परंतु अब तकनीकी विषयों पर ज्यादातर प्रविष्टियां अंतरजाल डाट इन पर ही प्रकाशित होंगी।

अभी अंतरजाल डाट इन शुरुआती अवस्था में है। भविष्य में और भी चीज़ें इसमें जुड़ती चली जाएंगी।

ब्लाग एग्रीगेटरों से निवेदन है कि वे “तकनीक” चिट्ठे की भी सामग्री अपनी साइट में दिखाना शुरू कर दें।

इस चिट्ठे के ईमेल सदस्यों से निवेदन है कि वे आगे से तकनीकी विषयों पर हिन्दी में जानकारी के लिए “तकनीक” चिट्ठे की सदस्यता ले लें।

आपके सुझाव सादर आमंत्रित हैं।

14 टिप्‍पणियां:

  1. आपके इस तकनीकी चिट्ठे का तहे दिल से स्वागत है |

    उत्तर देंहटाएं
  2. स्वागत है, शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  3. नये तकनीकी चिट्ठे के लिये शुभकामनायें। तकनीकी लेखन के लिये सैल्फ होस्टिड ब्लॉग ही फिट रहता है। चिट्ठा सुन्दर तथा प्रोफैशनल लुक में बना है।

    हाँ एक बात, मैंने अपने अनुभव से पाया है कि पर्मालिंक स्ट्र्क्चर http://blog.com/postid/postname टाइप का बेहतर रहता है जैसा कि आप मेरे चि्टठे पर देख सकते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  4. तकनीक आधारित वेबसाइट शुरू करने के लिए हार्दिक शुभकामनायें ,
    ले आउट भी सुन्दर है इस के लिए भी बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  5. @epandit कुछ तकनीकी दिक्कतें आ रही हैं पर्मालिंक में इसलिए डिफ़ाल्ट उपयोग कर् रहा हूं

    उत्तर देंहटाएं
  6. अंकुर जी मैं कुछ दिन पहले ही आप के ब्लॉग से परिचित हुआ हूँ और इस अवधि में आपकी ज्यादातर पोस्टें पढ़ डाली हैं बाकई आप की सभी पोस्ट लाजबाब हैं और आशा करता हूँ भविष्य में भी रहेंगी

    आप जिस उद्येश्य को लेकर एक नयी साईट प्रारंभ कर रहे हैं उसके लिए आपको ढेरों शुभकामनाएँ

    और इक बात आपने अंतर्जाल.इन का जो लोगो डिज़ायन किया है वो वाकई लाजबाब है .....

    धन्यबाद

    उत्तर देंहटाएं
  7. aur haan ankur ji ek baat jo main bhool gaya tha aapne Adbrite Advertising Network ka jo Ad lagaya hai krapaya uski jagah Google Adsense ya AdsForIndians ka Ad lagayen to aur bhi behtar hoga ....ye mera personal exp. ya sujhav hai kyon ki adbrite ke ad site par kabhi display hote hain aur kabhi nahin.......waise main bhi adbrite ka purana PUBLISHER rah chuka hoon ......3 mahine me kewal $5 kamaye the .....

    उत्तर देंहटाएं
  8. बधाई अंकुर ..हिंदी में साहित्येतर वेब साइटों की आवश्यकता है ..आशा है ओपन सोर्स पर जानकारी देना जारी रखेंगे आप.

    उत्तर देंहटाएं
  9. @SUNIL KUMAR: एडब्राइट इतना भी बुरा नही है. उससे मुझे थोड़ी कमाई भी हुई है। हां हिन्दी साइट में एडब्राइट लगाने में पैसे मिलने में दिक्कत होती है। अन्य नेटवर्कों के बारे में भी विचार करूंगा लेकिन कुछ समय बाद। अभी साइट तो शुरू हो।

    उत्तर देंहटाएं
  10. adbrite itna bhi bura nahin hai. halanki google adsense ki takkar ka koi nahin hai.

    :)

    filhal aapko badhai.

    उत्तर देंहटाएं
  11. @eguru rajeev
    पता है कि एडसेंस की टक्कर का कोई नही है| परंतु अपन उसको उपयोग नही कर सकते क्योंकि अपना खाता बैन हो चुका है।

    उत्तर देंहटाएं