गुरुवार, 11 फ़रवरी 2010

बज्ज बजा सकता है आपकी गोपनीयता की बैंड

गूगल ने हाल में ही अपना एक नया उत्पाद गूगल बज्ज के नाम से जारी किया है. जिसे देखकर लगता है कि गूगल अब फ़ेसबुक और ट्विटर से टक्कर लेना चाहता है. परंतु सावधान. बज्ज आपके जीमेल इनबाक्स से सीधे जुडा होता है. और इस चित्र को देखिए कि ये किस प्रकार आपकी गोपनीयता की बैंड बजा सकता है:

image

यानि कि आपके प्रोफ़ाइल को देखकर कोई भी व्यक्ति जान सकता है कि आपका संपर्क किससे किससे है और इसके आधार पर कई सारे अंदाजे  लगाए  और निष्कर्ष निकाले जा सकते हैं.

आप बोलेंगे फ़ेसबुक में तो ये सब पहले से ही है तो फ़िर जीमेल में आने से हाय तौबा क्यों. दरअसल बात ये है कि फ़ेसबुक जैसी साइटों में लोग नकली प्रोफ़ाइल बनाकर अथवा नियंत्रित रूप से जानकारी साझा करते हैं. फ़ेसबुक जैसी साइटें आपके ईमेल एकाउंट से सीधे जुड़ी नही होती हैं.

लोग बाग ईमेल पतों पर काफ़ी निजी जानकारी रखते हैं. कुछ ऐसे संपर्क सूत्र भी होते हैं जिन्हे सार्वजनिक करना सही नही होता. बज्ज के ईमेल से जुड़े होने के कारण ये एक तरह से आपके ईमेल के संपर्क सूत्रों की जानकारी एकदम से सबको उपलब्ध करा देता है. अब आप बोलेंगे कि ये कैसे होता है.

असल में जब आप बज्ज शुरू करते हैं तो आप सबसे पहले अपने संपर्क सूत्रों का अनुसरण करना शुरू करते हैं. और ये जानकारी सार्वजनिक हो जाती है.

अब ये तो फ़िर भी कुछ नही है. आगे देखिए ये स्क्रीनशाट. लिखा है कि मेरा प्रोफ़ाइल गूगल के खोज परिणामों में दिखाए जाने योग्य नही है.

image

जब मैंने एड मोर इंफ़ो टु माई प्रोफ़ाइल में क्लिक किया तो कुछ ऐसा दिखाई दिया

image

यानि कि मैं कहां बड़ा हुआ, कहां रहता हूं और किस कंपनी में काम करता हूं जैसी पूरी जानकारी यदि मैं यहां दे दूं तो दुनिया भर के लोग मुझे खोज परिणामों में कुछ इस प्रकार से पाएंगे:

image

और हां स्क्रीनशाट में एक हिस्सा कट गया है जिसमें मेरे प्रोफ़ाइल से मेरी साइट को जोड़ने की बात कही गई है. अब मुझे ये नही पता चला कि गूगल को ये क्यों लगता है कि वो साइट मेरी है. यानि कि उसे पता कैसे चला? और यदि मैं उसे सत्यापित कर दूं तो फ़िर हो सकता है कि मेरी साइट संबंधी खोज के साथ मेरे प्रोफ़ाइल का भी लिंक आने लगे.

यदि आप कोई छद्म नाम से किसी प्रकार की साइट चला रहे हैं और उसकी जानकारी गलती से गूगल एकाउंट जुड़ गई तो फ़िर गए काम से.

अच्छा ही हुआ कि मेरा प्रोफ़ाइल अभी इस योग्य नही कि उसे खोज परिणामों में दिखाया जा सके. परंतु डर अब भी है.  यदि गूगल किसी एल्गोरिद्म की मदत से मेरे सभी ईमेलों को छांटे और फ़िर सारी जानकारी निकालकर मेरे प्रोफ़ाइल को बना दे तो मैं क्या कर सकूंगा. अगर जानकारी को मिटा भी दिया तो भी गूगल कैश प्रति में उसकी एक प्रति रख सकता है.

गूगल ने डीएनएस सर्वर भी चालू किया. जब हम अपने ब्राउजर में किसी साइट काम नाम टाइप करते हैं तो यह अनुरोध पहले DNS सर्वर में जाता है फ़िर वह इसे शब्दों से आईपी पतों में बदल देता है. अब यदि आप Google DNS का प्रयोग कर रहे हैं तो ध्यान दीजिए कि आप कौन कौन सी साइटें खोलते हैं इसकी जानकारी गूगल के पास पहुंच जाती  है. और आपके ब्राउजर की private browsing भी इस मामले में कोई काम नही आती.

तो इस सबसे बचा कैसे जाए?

ज्यादा सुविधाओं के चक्कर में पड़ने से बचिए.  यदि छद्म नाम से कुछ कर रहे हों तो ये और भी जरूरी है.

ब्लाग आदि लिखते हों तो उसके ऊपर पूरा नियंत्रण रखने के लिए कुछ पैसे खर्च कीजिए ज्यादा नही डेढ़ दो हजार सालाना तक में आपका काम बन जाएगा. होस्टिंग तथा डोमेन नाम खरीदिए. होस्टिंग प्रदाता ईमेल सर्वर की भी सुविधा देते हैं अत: उसी ईमेल का प्रयोग कीजिए. सामान्य चैटिंग तथा ईमेल आदि के लिए आप जीमेल/याहू का प्रयोग कर सकते हैं परंतु निजी/गुप्त जानकारियों को वहां पर साझा करने से बचा जा सकता है.

यदि आप स्वयं की होस्टिंग का प्रयोग करते हैं तो आपको कुछ मेहनत भी करनी होगी जैसे ईमेल बैकअप, ब्लाग का डाटाबेस बैकअप, स्क्रिप्ट अपग्रेड आदि. परंतु आपकी जानकारी सुरक्षित रहेगी.

डीएनएस के मामले में आप अपने इंटरनेट सेवाप्रदाता का DNS प्रयोग करें. भई हम कौन सी साइट खोलते हैं इसकी जानकारी केवल हमारे आई एस पी के पास ही होगी. और उसके पास इसका कोई खास उपयोग नही होगा. परंतु गूगल जैसी कंपनी के पास ऐसी जानकारी सुरक्षित नही है क्योंकि वो एक दूसरे से जुड़ी हुई कई सारी सेवाएं चलाता है. और कहीं से भी जानकारी लीक हो सकती है.

बज्ज ने खोली दिमाग की खिड़कियां.

यदि बज्ज ना आता तो शायद मैं कभी इतना नही सोचता. अब मुझे भी लगने लगा है कि इन कंपनियों से अधिक जुड़ाव ठीक नही है. परंतु एकदम से इन्हे छोड़ा भी नही जा सकता है. अत: धीरे धीरे बदलेंगे क्योंकि अब डर लगने लगा है.

बज्ज बंद करने के लिए आपके जीमेल के पेज पर सबसे नीचे एक लिंक दिया होता है “Buzz बंद करें” इसपर क्लिक करके आप इसे बंद कर सकते हैं.

image

भविष्य का क्या?

मुझे लगता है कि सोशल नेटवर्किंग का वर्तमान तो बहुत अच्छा है परंतु भविष्य को लेकर मेरे मन में संदेह है. क्योंकि अभी तो ये शुरूआत है. जब ये बढ़ेगा तो लोग परेशान हो जाएंगे अपनी जानकारी छुपाने की असफ़ल प्रयास करते हुए मिलेंगे. और शुरू होगा गोपनीयता का व्यापार. यानि कि ऐसे साफ़्टवेयर उत्पाद बनाए जाएंगे जिनसे आप अपनी जानकारी सार्वजनिक होने से रोक सकेंगे.

अद्यतन. कृपया ध्यान दें!

बज्ज को बंद करने का ऊपर दिया हुआ तरीका कारगर नही है. और इससे कुछ भी नही होता है. बज्ज को बंद करने का तरीका यहां विस्तार से पढ़ें.

http://ankurthoughts.blogspot.com/2010/02/blog-post_12.html

18 टिप्‍पणियां:

  1. aaj subah hi yae apane email par daekha aur turat isko disable bhi kar diya
    yahaan pos tbhi dii haen http://indianwomanhasarrived.blogspot.com/2010/02/blog-post_11.html

    उत्तर देंहटाएं
  2. thanks Ankur bhai... nice information... I will shut off this BUZZ...

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत अच्छी जानकारी है मैने तो बज्ज आज ही लगाया था मगर अब बन्द कर दिया है धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  4. आपसे सहमत हूँ अंकुर..और गंभीरता से उपरोक्त पॉइंट्स पर सोंच रही हूँ ..निष्कर्ष पर अभी तक पहुंची नही ...पर अंदेशे कुछ आपके जैसे ही हैं.

    उत्तर देंहटाएं
  5. गीक मित्र! आज जब नेट खोला तो बज्ज लगाने का निमन्त्रण मिला। मैंने मना कर दिया और सोचा किस्सा खत्म हो गया। किन्तु लगता है कि खत्म नहीं हुआ। क्या हर बार जी मेल खोलने पर बज्ज को बज्ज औफ़ कहना होगा?
    घुघूती बासूती

    उत्तर देंहटाएं
  6. जानकारी के लिये बहुत बहुत धन्यवाद।

    उत्तर देंहटाएं
  7. i have question please

    if we disable buzz that is turn it off then can we be seen by others who have not turned it off

    उत्तर देंहटाएं
  8. किसी भी सोशल नेटवर्किंग साईट में निजता के साथ कुछ समझोता होता ही है बज्‍़ज इससे अलग नहीं बस इतना है कि ये हमारी गूगल प्रोफाइल से जुड़ा है (पर वो तो ओर्कुट भी है) इसलिए निजता संरक्षण को लेकर अंतिम कथन दिया नहीं जा सकता। अगर हम उन लोगों को फालो न करें जिनसे संबंध को सावर्जनिक नहीं करना चाहते तो क्‍या दिक्‍कत हो सकती है।

    गूगल कई अथो्रं में एक जिम्‍मेदार कारपोरेट है इसलिए अभी निष्‍कर्ष निकालना जल्‍दबाजी है।

    उत्तर देंहटाएं
  9. उन्नत तकनीकी के हो सकता है बहुत फायदे हो लेकिन तब व्यक्ति की निजता खोने का उसे कितना नुकसान उठाना होगा, इसका अंदाजा आप इस पोस्ट को पढ़कर लगा सकते है
    जब नेट्वर्किंग का होगा जमाना

    उत्तर देंहटाएं
  10. thanks for the information...bas abhi band kar diya

    उत्तर देंहटाएं
  11. shukriya bandhu,is jankari k liye,apan to taknik k mamle me dhakkan hain

    ;)

    उत्तर देंहटाएं
  12. सीधी बात तो यह है कि चूँकि यह आपके ईमेल से सीधा जुडा है तो उसे उतनी ही सावधानी, गंभीरता और जिम्मेदारी से उपयोग करें जितना आप अपना ईमेल आईडी उपयोग करते हैं. फोलोवर्स धयान से बनायें अनजान व्यक्ति को अपने बज्ज़ से दूर ही रखें. जो जानकारी सार्वजानिक नहीं की सकती उसे प्रोफाइल पर क्यों डालना? ऐसा करना आपकी गलती होगी ना की गूगल की. जो भी लिंक्स या आप्शन स्क्रीन पर आ रहे है उसमें विकल्प है ही. सोचसमझकर और पढ़कर क्लिक करें..............बाकी फर्जीवाड़ा करने के लिए फेसबुक, ट्वीटर और ऑरकुट है ही वे बंद थोड़े ही हो गए हैं.!

    उत्तर देंहटाएं
  13. कैसे गूगल डीएनएस सेटिंग्स? गूगल DNS सर्वर पते, क्या?
    गूगल, के रूप में नया डीएनएस भाषण के दौरान इस प्रकार है;
    8.8.8.8
    4.2.2.5
    8.8.4.4
    http://www.cabadak.com/google-dns-ayarlari-nasil-yapilir/

    उत्तर देंहटाएं
  14. मित्रों, आप अपने मोबाईल फोन के जरिये हजारों रुपये प्रतिदिन कमा सकते हें, और इस बढ़ती महंगाई के दोर में और अधिक कार्य करके तनावग्रस्त होने के बजाय न केवल आसानी से अपने रोजमर्रा के खर्चों को चुका सकते हें बल्कि अपने घर-परिवार, समाज को पहले से भी ज्यादा समय दे सकते हें साथ ही अपनी जिन्दगी एशो-आराम के साथ जी सकते हें.

    * अपने स्कूल, कॉलेज, सरकारी या प्राइवेट कार्यस्थल में या घर बैठे खाली समय का सदुपयोग करके.

    * प्रारंभ में सिर्फ कुछ दिनों के पार्ट-टाईम आसान कार्य से आपको उत्तरोतर बढती हुई एक नम्बरी आय ताउम्र ओटोमेटिक सिस्टम से मिलती रहती हे.

    * इस सरल कार्य को प्रत्येक भारतीय नागरिक (युवक-युवती, स्त्री-पुरुष) जिसके पास स्वंय के नाम से किसी भी कंपनी का मोबाईल कनेक्शन हो, कर सकता हे.

    * रजिस्ट्रेशन के लिए अपना पूरा नाम, जन्मदिन, पता + पिनकोड इस नम्बर पर अंग्रेजी या हिंदी में स्वयं के मोबाईल से SMS करें : 9462580153 (एक मोबाईल नम्बर से एक आवेदन ही स्वीकार होगा, यह नम्बर सिर्फ SMS के लिए हे, इस पर किया गया काल अटेंड नहीं होगा.)
    * रजिस्ट्रेशन "पहले आओ, पहले पाओ" के आधार पर हो रहा हे अन्तह देर नहीं करें आज ही आवेदन करके टॉप लेवल प्राप्त करें.

    आपका आवेदन स्वीकार हो जाने पर कार्य से सम्बंधित सारी जानकारी आपके डाक के पते पर भेज दी जायेगी. इस पोस्ट को अपने मित्रों, सहपाठियों, सहकर्मियों, रिश्तेदारों आदि को फ़ॉरवर्ड करके उन्हें भी लाभावंतित करें.

    उत्तर देंहटाएं