बुधवार, 14 जनवरी 2009

वेबमिन: सर्वर कान्फ़िगर करने का बेहतरीन जी यूं आई.

एपाचे वेब सर्वर को कान्फ़िगर करने उसकी सेटिंग्स बदलने के लिए उसकी कान्फिगरेशन फाइल मे हाथ डालना पड़ता है। जो की सबके लिए आसान नही होता और गलतियाँ करने की भी संभावनाएं रहती हैं। इसका हल है वेबमिन।
वेबमिन वेब ब्राउजर बेस्ड सर्वर कान्फिगरेशन टूल है जो ना केवल अपाचे को बल्कि ढेर सारे अन्य सर्वर जैसे कि डाटाबेस सर्वर, मेल सर्वर, ऍफ़ टी पी सर्वर और एप्लिकेशन सर्वर्स को भी हैंडल कर सकता है।
वैसे तो मुख्या रूप से ये लिनक्स के लिए उपलब्ध है पर विन्डोज़ वाला पैकेज भी उपलब्ध कराया गया है। मुझे विन्डोज़ मे इसे इंस्टाल करने मे खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा और नही कर पाया। लिनक्स के लिए आर पी एम् और डेब दोनों ही प्रकार के पॅकेज उपलब्ध हैं।
मैंने इसका डेबियन पैकेज अपने उबंटू आपरेटिंग सिस्टम मे डाला। ये आराम से इंस्टाल हो गया।
इसका इंटरफेस खोलने के लिए ब्राउजर मे ये टाईप करना पड़ता है : https://localhost:10000/
लाग इन पेज मे अपना उबंटू का यूजर नेम और पासवर्ड डालिए। और हो गया।
कुछ ध्यान देने योग्य बातें:
  1. वेबमिन का सर्वर अलग प्रोसेस के द्वारा चलता है। यानी कि ये आपके अपाचे सर्वर से बिल्कुल अलग चलता है। अगर आपनेअपाचे को बंद कर दिया है तो भी वेबमिन चलता रहेगा।
  2. वेबमिन इंस्टाल करने के पहले अगर एपाचे, माई एस क्यू एल और पी एच पी इंस्टाल है तो बेहतर रहेगा।
  3. वेबमिन की डिफाल्ट थीम बहुत बहुत साधारण दिखती है. अतः सलाह है कि कोई अच्छी सी थीम इंस्टाल कर लें।
  4. मेरी पसंद की थीम ये है : http://www.stress-free.co.nz/webmin-theme/
  5. वेबमिन को यहाँ से डाउनलोड कर सकते हैं http://www.webmin.com/
वेबमिन के स्क्रीन शॉट्स (ये सभी नई वाली थीम के साथ हैं। डिफाल्ट थीम अलग तरह से दिखती है )








वेबमिन से आप सर्वर्स को तो कान्फ़िगर कर ही सकते हैं इसके अलावा भी बहुत सारे अन्य काम भी कर सकते हैं जैसे कि साफ्टवेयरों को इंस्टाल अन इंस्टाल करना, स्टार्ट अप के प्रोग्राम्स को प्रबंधित करना, कमांड शेड्यूल करना, फायर वाल की सेटिंग्स बदलना, नेटवर्क सेटिंग्स बदलना, हार्ड डिस्क मे विभाजन करना आदि। इतने ज्यादा विकल्प इस प्रोग्राम मे हैं की अगर लिखना शुरू करुँ तो एक किताब बन जायेगी। इस प्रोग्राम से आप ब्राउजर से ही कम्पयूटर को बंद भी कर सकते हैं।
इसे वेब बेस्ड इंटरफेस देने का एक फायदा है। आप दूर से भी अपने सर्वर को स्टार्ट, स्टाप, रिस्टार्ट आदि कर सकते हैं।
वेबमिन एक तरह से आल इन वन पॅकेज है। अगर आप लिनक्स उपयोग करते हैं तो जरूर इसे उपयोग कीजिये। ये फ्री है।

4 टिप्‍पणियां:

  1. क्या वेबमिन सर्वर इंस्टाल कर अपनी वेब साईट उस पर होस्ट कर सकते है कृपया हो सके तो अपना लिनक्स सर्वर कैसे बनाये पर विस्तार से एक पोस्ट लिख डाले |

    उत्तर देंहटाएं
  2. अंकुर जी
    क्या उबुन्टु डेस्कटॉप को नेट वोर्किंग के काम लिया जा सकता है आपने जो वेबमिन के बारे में लिखा इसका कैसे उपयोग किया जा सकता है | क्या उबुन्टु में squid proxy काम लिया जा सकता है

    उत्तर देंहटाएं
  3. उबंटू से आप वो सब कर सकते हैं जो आप एक विंडॊज पीसी से कर सकते हैं. उबंटू कम्प्यूटर को आप सर्वर के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

    उत्तर देंहटाएं
  4. ब्लाग में निमंत्रण लिकं कैसे बनाये jasa ki http://yaadonkaaaina.blogspot.com/
    ऊपर में बना है की
    अगर आप इस ब्लॉग के मेंबर बनकर लिखना चाहते है तो नीचे दी गयी फोटो पर क्लीक करे और आमंत्रण पाए!

    उत्तर देंहटाएं