सोमवार, 4 अगस्त 2008

पूरा सर्वर केवल १२ एम बी में

अभी एक दिन ये साफ़्टवेयर हाथ लगा. मैं तो दंग रह गया जब पता लगा कि इसमें एपाचे, पीएचपी, माईसीक्वेल और एसएमटीपी सर्वर हैं वो भी १२ एम बी के भीतर. नाम है: यू एस बी वेब सर्वर. ये है एक पोर्टेबर सर्वर. यानि कि इसे चलाने के लिये आपको इसे किसी मशीन में इंस्टाल करने की जरूरत नही है.

इस तरह के साफ़्टवेयर हम डेवलपमेंट के उद्देश्य से कर सकते हैं. जैसे आपको अगर पी एच पी सीखना है या उसमें कोई वेब एप्लीकेशन बनाना है तो आप इसका प्रयोग कर सकते हैं.

image

सेटिंग्स सेक्शन में जाकर हम सर्वर के पोर्ट्स, डाटाबेस इंजन के पासवर्ड आदि बदल सकते हैं.

इसमें पीएचपी माई एडमिन भी है जिसके द्वारा आप माई सीक्वेल डाटाबेस में आसानी से काम कर सकते हैं.

ये साफ़्टवेयर निश्चित ही बेहतरीन डेवलपमेंट टूल है. अगर आप भी पीएचपी सीखना चाहते हैं तो इसे डाउनलोड जरूर कीजियेगा.

इसे यहां से डाउनलोड करें.

13 टिप्‍पणियां:

  1. ये तो बड़ा काम का आईटम ले आये स्पेशली यू एस बी के थ्रू बहुत ही सुविधाजनक हो जायेगा. आभार.

    उत्तर देंहटाएं
  2. मैटर बाऊँस कर गया

    उत्तर देंहटाएं
  3. अच्छी काम की बात बताई है.

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत धांसू चीज है; विश्वास ही नहीं होता कि ऐसा सम्भव है।

    उत्तर देंहटाएं
  5. wah ab to download karna he padega.

    mere paas bahut se php script hain jaise "LINK SUBMISSION" ishme .php mysql(name+password) ka male milap hai

    link submission ka SCRIPT bahut aacha hota hai ish se apne site par dal lene ke baad kai log jo free aur paid me apne site ka SEO badhana cahte hain ya PR+ badhana cahte hain to ye kam aata hai



    ish 2mb ke script ko check neahi kar pa raha tha kyo ki FTP kaam neahi karta hai mere pc me(SLOW NET SPEED)

    par shayad aapke dwara bataye hue software ko use karne se PHP script Computer me he bina server par lode keye he kam kar jaye

    उत्तर देंहटाएं
  6. आप सभी का टिप्पणियों के लिये बहुत बहुत धन्यवाद.

    उत्तर देंहटाएं
  7. ईससे .php कैसे सीख सक्ते हैं
    क्या .php बीना साईट मे डाले ही चल जाता है।
    यानी क्या ये .php को बीना ईंटरनेट कनेक्सन के चला सक्ता है?

    उत्तर देंहटाएं
  8. कुन्नू भाई एक पीएचपी की किताब ले लो सब समझ आ जायेगा.

    उत्तर देंहटाएं
  9. अंकुर भाई यह मेरा एक सिर्फ सूझाव है या मै एक बात बताना चाहता हूं।

    जब भी आपके वीब्गयोरलाईफ पर जाता हूं और कूछ डाउनलोड या कोई कंटेनट पढता हूं तो कई बार(हर बार) एडब्राईट का फूलपेज एड आ जाता है और skip करने से हट तो जाता है पर पेज ईसके बाद नीचे नही जा पाता है और ईस तरह रीफ्रेस करना पडता है या बीना पढे ईकजीट।

    अगर एडब्राईट मे फूल पेज एड की कमाई दीखा रहा हो जैसे की = $0 तब हटाना ही बढीया होगा क्यो की ईससे कई वीजीटर भाग जाते हैं।
    या साईट का बैड ईंप्रेसन पडता है जीससे वीजीटर कम होते जाते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  10. ये मेरा फीडबैक था बाकी नये सर्वर पर चले गै हैं तो बहुत बधाई।

    और आपके मेहनत की तारीफ करना कम ही होगा।

    उत्तर देंहटाएं
  11. कुन्नू जी आपको जो ये परेशानी हो रही है उसके लिये क्षमा चाहता हूं. मैं भी इस समस्या को सुलझाना चाहता हूं. हलांकि ऐसा केवल इंटरनेट एक्सप्लोरर में होता है. फ़ायर फ़ाक्स में सब ठीक से चलता है. मैं फ़ुल पेज एड हटा नही सकता हूं क्योंकि इनसे भी आमदनी होती है.

    उत्तर देंहटाएं
  12. अंकुर जी मूझे ईससे कोई परेसानी नही है। बस मै आपको बताना चाहता था।

    उत्तर देंहटाएं
  13. अपने vibgyorlife.com को www.hindimaja.com/toplinks पर रजीस्टर कर के टाप 10 मे डालें।
    फ्री सेवा और कोई रख रखाव नही।

    उत्तर देंहटाएं