सोमवार, 30 जुलाई 2007

टायटेनिक के डूबने की खबर

इन्टरनेट पर घूमते घूमते ये अखबार मिला । है तो ये अन्य आम अखबारों की तरह पर इसकी हेड लाइन तो पढ़िये जरा...


सर्च बॉक्स : ब्लॉगर इन ड्राफ्ट मे एक नया फीचर

नये ब्लॉगर मे नित नयी सुविधाएं जुड़ती जा रही हैं । इन्ही सुविधाओं मे से एक है सर्च बॉक्स । जीं हाँ सर्च बॉक्स । इसे आप अपने ब्लोग मे ठीक उसी तरह जोड़ सकते हैं जैसे के किसी अन्य पेज एलिमेंट को। ये सर्च बॉक्स गूगल कस्टम सर्च का उपयोग करता है । और हाँ इसे लगाने के बाद ये आपकी ब्लोग पोस्टों को तो सर्च करता ही है साथ मे ये आपके साइड बार मे स्थित लिंकों को भी खोजता हैं।

इसमे सबसे अच्छी बात ये है कि सर्च रिजल्ट उसी पेज मे दिखाई देते हैं यानि कि सर्च करने के बाद आपका विजिटर किसी अन्य पेज में नही पहुंचेगा।

सर्च रिजल्ट मे ये तीन टैब देता है :
यह ब्लाग : इसमे आपके ब्लाग की पोस्टों के परिणाम होते हैं
यहां से लिंक किया हुआ: इसमे आपके ब्लाग से लिंक की हुई साइटों के खोज परिणाम होते हैं
वेब: बताने की जरूरत नही। पूरी दुनिया को पता है कि इसमे पूरी दुनिया की खोज शामिल होती है।
आप जब चाहें इन टैबों को क्लोज़ बटन के द्वारा बन्द कर सकते हैं वो भी बिना ब्लाग को बन्द करे।

शनिवार, 28 जुलाई 2007

मेरी पसंदीदा कवितायेँ - 2

"मैंने ज़िन्दगी से चवन्नी का सौदा किया,
और ज़िन्दगी ने मुझे इससे ज्यादा नही दिया,
हालांकि जब शाम को मैंने अपनी मजदूरी गिनी
तो मैंने और ज्यादा पैसे मांगे।
"ज़िन्दगी एक न्यायप्रिय मालिक है,
यह आपको उतना ही देती है जितना आप माँगते हैं,
परंतु एक बार आप अपनी मजदूरी तय कर लेते हैं,
तो फिर आपको उतने पर ही काम करना पड़ता है।

"मैं एक मजदूर की पगार पर काम करता रहा,
मैंने यही सीखा, और सोचकर निराश हुआ
कि मैं ज़िन्दगी से जो भी तनख्वाह मांगता
जिन्दगी मुझे ख़ुशी ख़ुशी वही दे देती।"


स्रोत : सोचिये और अमीर बनिए (नेपोलियन हिल)

मेरी पसंदीदा कवितायेँ -1


"अगर आप सोचते हैं कि आप हर गए हैं, तो आप हार गए हैं,
अगर आप सोचते हैं कि आपमें हिम्मत नही है, तो आपमें नही है।
अगर आप जीतना चाहते हैं, परंतु सोचते हैं कि आप नही जीत सकते हैं,
तो यह लगभग तय है कि आप नही जीत पाएंगे।

"अगर आप सोचते हैं कि आप हारेंगे, तो आप हार चुके हैं,
क्योंकि दुनिया में हमने ये पाया है
सफलता किसी आदमी की इच्छा से शुरु होती है-
यह पूरी तरह से मानसिक स्थिति पर निर्भर है।

"अगर आप सोचते हैं कि आप पिछ्ड़ गये हैं, तो सचमुच ऐसा है,
आपको ऊपर उठने के बारे मे सोचना होगा,
आपको अपने आप पर विश्वास करना होगा और तभी
आप कभी कोई पुरस्कार जीत सकते हैं।

"जीवन के युद्ध मे हमेशा वही नही जीतता
जो सबसे ताकतवर या तेज होता है,
बल्कि जल्दी या देर से जीतता वही है
जो सोचता है कि वह जीत सकता है!"

स्रोत: सोचिये और अमीर बनिये (नेपोलियन हिल)

शनिवार, 21 जुलाई 2007

कई आपरेटिंग सिस्टम एक साथ एक कम्प्यूटर मे वो भी बिना पार्टीशन किये

हममे से ज्यादातर लोग विन्डोज़ का इस्तेमाल करते हैं । कभी लिनक्स का स्वाद चखने की ईच्छा हुई तो लाइव सी डी चला लेते हैं। इंस्टाल करने की ईच्छा हुई तो अलग से पार्टीशन बना के इंस्टाल भी कर देते हैं । और अगर आपको फिर कोई नया लिनक्स डालना हुआ तो फिर वही formatting करने वाला झंझट । वैसे भी हार्ड डिस्क को ज्यादा फार्मेट नही करना चाहिऐ।
तो फिर किया क्या जाये। आप किसी भी अन्य आपरेटिंग सिस्टम को वर्चुअल मशीन मे इंस्टाल करके उसका आनंद ले सकते हैं ।
वर्चुअल मशीन क्या है ?
ये एक ऐसा साफ़्टवेयर है जो कि आपके कंप्यूटर के अंदर चलकर आपको एक या एक से अधिक वर्चुअल कंप्यूटर का निर्माण करता है । हर वर्चुअल कंप्यूटर अपने आप मे एक सम्पूर्ण मशीन होता है जिसमे वर्चुअल हार्ड ड्राइव होती है। आपके होस्ट आपरेटिंग सिस्टम मे ये हार्ड ड्राइव एक फ़ाइल के रुप मे दिखाई देती है। जिसे आप जब चाहे मिटा सकते हैं ।
वर्चुअल मशीन को चलाने के लिए कम से कम ५१२ एम् बी रैम हो तो बेहतर है क्यूंकि आपको अपने एक वर्चुअल कम्प्यूटर को चलाने के लिए उसे रैम एलाकेट करनी होती है।
microsoft वर्चुअल पी सी के नाम से वर्चुअल मशीन फ्री मे डाउनलोड करने की सुविधा देती है । इसके अलावा वर्चुअल बॉक्स से भी ये काम सुविधाजनक रुप से किया जा सकता है।
मैंने mandriva linux वर्चुअल बाक्स मे इंस्टाल किया है ये देखिए स्क्रीन शॉट:


वर्चुअल मशीन के उपयोग :
१) आपके पास एक ऐसा साफ़्टवेयर है जो विन्डोज़ के पुराने versions मे चल जाता था पर विन्डोज़ एक्स पी मे नही चल पा रहा है तो आप वर्चुअल मशीन मे पुराना आपरेटिंग सिस्टम डालकर उसमे वो साफ़्टवेयर चला सकते हैं।
२) linux को ट्राई करने के लिए वर्चुअल मशीन बेस्ट है।
३) नौसिखिये linux को इसके द्वारा सीख सकते हैं।
ध्यान रखें :
एक बार आपरेटिंग सिस्टम इंस्टाल हो जाने के बाद उसमे एंटी वायरस इंस्टाल जरूर कर लें।
अगर आप Microsoft Virtual PC का उपयोग कर रहे हैं और विन्डोज़ को उसमे इंस्टाल किया है तो वर्चुअल पी सी एडीशन जरूर इंस्टाल कर लें। इसके द्वारा आप गेस्ट और होस्ट आपरेटिंग सिस्टम मे फाइलों का आदान प्रदान कर सकते हैं। हालांकि वर्चुअल पी सी लीनक्स मे ये सुविधा नही देता है।

वर्चुअल बाक्स डाउनलोड यहाँ से करें
वर्चुअल पी सी डाउनलोड यहाँ से करें

गुरुवार, 19 जुलाई 2007

अब मचायें किसी भी साईट मे तोड़ फोड़

अक्सर हम इन्टरनेट पर कुछ ऎसी साइटों से मुलाक़ात कर बैठते हैं जो कि विज्ञापनो से भरी रहती हैं और कंटेंट के नाम पर कुछ खास नही होता है। तो पेश है ऎसी साइटों के ऊपर अपना ग़ुस्सा निकालने का तरीका। नेट डिजास्टर एक ऎसी ही साईट है। इस साईट को खोलें और किसी बोरिंग साईट का नाम डाल दें । और अब आप अंडे गोबर फेंकने को तैयार हैं। इसमे आप टमाटर , बंदूक , उड़न तश्तरी आदि के माध्यम से किसी भी साईट के ऊपर अपना ग़ुस्सा निकाल सकते हैं।

ये देखिए एक स्क्रीन शॉट:

नेट डिजास्टर का पता है :http://www.netdisaster.com/

रविवार, 15 जुलाई 2007

बरमूडा त्रिकोण: जरा इस फोटो को तो देखिये

कहानियों मे ऐसी जगहों का जिक्र होता है जहां द्वीप सतह पर ना होके आसमान मे उड़ते रहते है. पर इस फोटो को देख्नने के बाद लगता है कि ये सच है.
ये फोटो है उस जगह की जो बर्मूडा त्रिकोण के अंतर्गत आता है. इसे सैटेलाईट के द्वारा लिया गया है.
परछाइयों से स्पष्ट हो जाता है कि ये जगहें हवा मे तैर रही हैं। (१० मील सतह से ऊपर)
http://www.ecoenquirer.com/levitating-islands.तम

राजेश का सच (वीडियो)

अभी १-२ दिन पहले IBN7 वाले ने ये खबर फैलाई कि एक राजेश नाम के लड़के मे किसी अमरीकी वैज्ञानिक की आत्मा है और राजेश एक वैज्ञानिक है । मैंने उसका वीडियो भी अपने ब्लोग पर रखा है ।
४ घंटे तक उसने ये कार्यक्रम दिखाया और सभी चैनलों की टी आर पी की बैंड बजा दीं ।
कल जीं न्यूज़ वाले ने ये खुलासा किया कि ये सब झूठ है। ज्यादा जानकारी के लिए वीडियो देखें :-

शुक्रवार, 13 जुलाई 2007

एक और चमत्कार : इसरो तक पहुँची बात (वीडियो)



एक गाँव का १४ साल का लड़का ३ माह एक कमरे मे बंद रहने के बाद जब बाहर निकला तो वह अंगरेजी बोल रहा था । और वो भी ऎसी जैसे कि अंगरेजी उसकी मातृभाषा हो। यही नही उसकी Body Language भी बदल गई। अब वह रिसर्च करना चाह रहा है और आप सब से मदत माँग रहा है। वीडियो जरूर देखियेगा।

इसी ब्लोग मे प्रकाशित अन्य वीडियो :

जानवरों का इन्टरवियू मजेदार वीडियो
कल्पना चावला का पुनर्जन्म (वीडियो)
साइँ बाबा का चमत्कार
मैक ओ एस १० का एड
-----------------------------------------------------------------
और अब ऑनलाइन वीडियो एडिटिंग फ्री मे
-----------------------------------------------------------------

गुरुवार, 12 जुलाई 2007

और अब ऑनलाइन वीडियो एडिटिंग

जीं हाँ । अब अन्य वेब साफ्टवेयरों की तरह ही वीडियो एडिटिंग भी ऑनलाइन शुरू हो गई है। यू ट्यूब रीमिक्सर के नाम की ये सर्विस के द्वारा यू ट्यूब उपयोगकर्ताओं को प्रोफेशल क्वालिटी के वीडियो बनाने की सुविधा शुरू हो गई है।
ये ऑनलाइन साफ़्टवेयर एडोबी प्रीमियर एक्सप्रेस है । ये एक फ्लैश बेस्ड साफ्टवेयर है । इसमे वीडियो एडिट करने के लिए आपको पहले वीडियो को यू ट्यूब मे अपलोड करना पड़ेगा , फिर आप उसमे ग्राफिक्स, ट्रांसिशन, बॉर्डर सब कुछ डाल सकते हैं ।
यू ट्यूब रीमिक्सर
अन्य वेब बेस्ड साफ़्टवेयर :
पीपल आफिस
फिक्सर
स्क्रैप ब्लोग

फ्री मे रजिस्ट्रेशन एकाउंट्स हाजिर है (हर साईट का)

जब हम किसी साईट पर जाते हैं और उसमे से किसी चीज़ को डाउनलोड करने के लिए रजिस्ट्रेशन नाम का पत्थर अटक जाता है तो बहुत ग़ुस्सा आता है । कुछ साइटों को तो ब्राउज़ करने के लिए भी रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता पड़ती है।
पर जनाब जहाँ समस्या है तो वहीं समाधान भी है।
बग मे नाट एक ऎसी ही वेबसाईट है जहाँ से आप किसी भी साईट का एकाउंट पा सकते हैं । बस साईट का नाम टाईप कीजिये और बटन पर क्लिक कीजिये । आपके सामने बहुत सारे बने बनाए एकाउंट आ जायेंगे और वो भी पासवर्ड के साथ।

इस साईट का पता है http://www.bugmenot.com/




Apple iPhone Pros and Cons



बुधवार, 11 जुलाई 2007

विन्डोज़ के बारे मे मजेदार तथ्य

१। शुरुआत मे विन्डोज़ इंटरफेस मैनेजर कहलाता था।
२। विन्डोज़ सबसे पहले १९८५ मे आया।
३। ये विश्वास किया जाता है कि बिल गेट्स को विन्डोज़ का आईडिया स्टीव जॉब से मिला।
४। विन्डोज़ मे ५० लाख लाइनों का कोड है (प्रत्येक लाइन मे ६० कैरेक्टर होते हैं) यह कोड हर नई रिलीज के साथ २०% की दर से बढ़ता है ।
५। लगभग २.५ लाख से ३ लाख के करीब विन्डोज़ एप्लीकेशन हैं।
६। दुनिया के ८५ प्रतिशत कंप्यूटरों मे विन्डोज़ उपयोग होता है ।
७। विन्डोज़ के स्थगित किये हुये संस्करण हैं:
मई १९९६ - विन्डोज़ ९६
१९९७-१९९८: CARIO
१९९९- विन्डोज़ नेप्च्यून (ये बीटा टेस्टिंग के लिए निकला गया पर कभी रिलीज नही हुआ )
८। मौत की नीली स्क्रीन :- ये विन्डोज़ की वह स्थिति है है जब वो किसी भारी एरर की चपेट मे आ जाता है । ब्लू स्क्रीन ऑफ़ डेथ सबसे पहले एरिक नोएस के द्वारा १९९१ मे बनाया गढा गया।
९। माइक्रोसाफ्ट के पास क्रैसेस का रिकॉर्ड है । एक अनुमान के मुताबिक विन्डोज़ आधारित कंप्यूटरों मे दुनिया भर मे लगभग २५ लाख क्रैश होते हैं।
१०। विन्डोज़ विस्टा के ६०% कोड को किसी खराबी की वजह से दुबारा लिखना पड़ा।

जानवरों का इन्टरवियू मजेदार वीडियो

मेरा पसंदीदा वीडियो । मुझे इस एनीमेशन का कंसेप्ट बहुत ही पसंद आया। आप भी देखिए और अपने विचार लिखिए



अन्य वीडियो
कल्पना चावला का पुनर्जन्म (वीडियो)
साइँ बाबा का चमत्कार
मैक ओ एस १० का एड

शनिवार, 7 जुलाई 2007

सावधान ! वायरस को पहचानिये नही तो फंसेंगे

नीचे कुछ स्क्रीन शॉट हैं। अगर आपको कोई भी आपके कम्प्यूटर मे दिखता है तो संभल जाइए ये वायरस है। पी सी वर्ल्ड मे घूमते हुये ये जानकारी मिली।






अन्य पोस्टें :
फ्री मे डोमेन नेम और फ्री होस्टिंग : माइक्रोसॉफ़्ट ऑफिस लाइव
आई फ़ोन के अंदर क्या है? देखिए
फायर फॉक्स ३ अल्फ़ा : अल्फ़ा जैसा ही है

फायर फॉक्स ३ अल्फ़ा : अल्फ़ा जैसा ही है

फायर फॉक्स ३ का अल्फ़ा 6 संस्करण Gran Paradiso हाजिर है । इसमे क्या बेहतर है वो तो मुझे नही पता पर क्या बेहतर नही है ये ज़रूर पता चला ।

याहू मेल बीटा को ये सपोर्ट नही करता है ।

रियल प्लेयर के डाउनलोड एक्सटेन्सन भी ये सपोर्ट नही करता है ।

फायर फॉक्स की थीम भी सपोर्ट नही करता है।

अल्फ़ा संस्करण अल्फ़ा जैसा ही है । इसमे काफी कुछ और लगाने की ज़रूरत है।
मैं तो यही सलाह दूंगा कि आप फायर फॉक्स 2 को ही उपयोग करें । पर अगर आप इसे टेस्ट करना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें

आई फ़ोन के अंदर क्या है? देखिए







१) और सिम कार्ड के लिए
२) फ्लैश मेमोरी
$9.50 कैमरा २ मेगापिक्सल

फ्री मे डोमेन नेम और फ्री होस्टिंग : माइक्रोसॉफ़्ट ऑफिस लाइव


फ्री मे डोमेन नेम । जीं हाँ माइक्रोसॉफ़्ट का ऑफिस लाइव फ्री डोमेन और फ्री वेब होस्टिंग सुविधा है। इसका वीडियो तो देखिए। मुझे प्रस्तुतीकरण बहुत ही अच्छा लगा। इसका बैक ग्राउंड म्यूजिक जोरदार लगा। पर गड़बड़ ये है कि ये सुविधा भारत मे नही है। गूगल बाबा से कहो कि ब्लोगर के बाद कुछ ऐसा चमत्कार अपने देश मे भी कर दें । गूगल पेजेस मे उतना सब नही है जो एक वेबसाइट बनने के लिए ज़रूरी है । इसके अलावा ये डोमेन नेम भी नही देता है ।

गुरुवार, 5 जुलाई 2007

कल्पना चावला का पुनर्जन्म (वीडियो)

और भी है : साइँ बाबा का चमत्कार

विन्डोज़ हैक : - नो टु आल

सामान्यतया जब हम कई फाइलों को एक जगह से दूसरी जगह ले जाते हैं और जब एक ही नाम वाली फ़ाइल आ जाती है तो विन्डोज़ हमे ४ विकल्प देता है :-
Do u want to replace the file फलाना to फलाना
Yes
Yes to all
No
Cancel

विन्डोज़ हमे No to All का विकल्प नही देता है।
आइये जानते हैं नो टु आल को कैसे लाया जाये, आपको जो No का बटन दिखाता है उसमे Shift+Click कीजिये । और हो गया । आपने नो टु आल मे क्लिक कर दिया, यानी कि No button मे Shift+Click नो टु आल की तरह काम करते हैं।

अन्य पोस्टें :

रियल प्लेयर ११ बीटा ||| नई खूबियों के साथ

क्या ओपन सोर्स आपकी हर ज़रूरत को पूरा कर सकता है ?

डेमोक्रेसी प्लेयर लाजवाब

नार्टन ३६० वाकई जोरदार है

मैक का सफारी अब आपके विन्डोज़ के लिए

मेरा लिनक्स कैसा हो ... बिल्कुल विन्डोज़ जैसा हो

बनायें अपना पोल ब्लॉगर के साथ (ब्लॉगर इन ड्राफ्ट)

बुधवार, 4 जुलाई 2007

मेरा लिनक्स कैसा हो ... बिल्कुल विन्डोज़ जैसा हो

आज मेरे मन मे विचार आ रहा था कि मैं विन्डोज़ उपयोग करता हूँ, लिनक्स क्यों नही? कभी कभी मूड बदलने का मन होता है तो लाइव सी डी चलाकर मन भर लेता हूँ।
मेरे पास UBANTU लिनक्स और बॉस लिनक्स है । इसमे सबसे बड़ी समस्या जो मुझे समझ मे आई वो ये है कि इसमे मैं अपने पसंदीदा साफ्टवेयर जैसे PHOTOSHOP, ILLUSTRATOR, PREMIERE, PINNACLE STUDIO, PINNACLE PCTV VISION , MICROSOFT OFFICE 2007 आदि। आभी तक कोई फोतोशाप लिनक्स ऐसा नही बना है जो सारे विन्डोज़ के प्रोग्राम्स को चला सके। कुछ ऐसे प्रोजेक्ट्स ज़रूर चलाये जा रहे हैं जिसके द्वारा लिनक्स मे कुछ गिने चुने प्रोग्राम्स को चलाने का प्रयास किया जा रहा है जैसे कि वाइन प्रोजेक्ट।

मेरा विचार है कि अगर लिनक्स का ऐसा आधार बनाया जाये कि वो स्वयं विन्डोज़ के सारे प्रोग्राम्स जिसमे सारे ड्राइवर, गेम्स शामिल हो तो लिनक्स ज्यादा पॉपुलर हो जाएगा।

मैंने बॉस और UBUNTU दोनो मे ही देखा है कि आइकन सही तरीके से DESKTOP मे सेट नही रहते हैं मतलब कि १०२४ के RESOLUTION मे विन्डोज़ के मुक़ाबले कम आइकन आते हैं।

इसमे एक DESKTOP सर्च की सुविधा होनी चाहिये हालांकि गूगल DESKTOP अब लिनक्स के लिए भी आ गया है ।


एम पी ३ को ये सपोर्ट नही करता है इसके लिए अलग से डाउनलोड करना पड़ता है । ये समस्या भी हल होनी चाहिये।

अब आपका क्या कहना है , कमेंट कीजिये।

अन्य पोस्टें :

रियल प्लेयर ११ बीटा ||| नई खूबियों के साथ

क्या ओपन सोर्स आपकी हर ज़रूरत को पूरा कर सकता है ?

डेमोक्रेसी प्लेयर लाजवाब

नार्टन ३६० वाकई जोरदार है

मैक का सफारी अब आपके विन्डोज़ के लिए

बनायें अपना पोल ब्लॉगर के साथ (ब्लॉगर इन ड्राफ्ट)

ब्लॉगर ड्राफ्ट आ जाने के साथ ही इसमे नित नए फीचर जुड़ते जा रहे हैं । अभी मुझे पता चला कि अब इसमे एक नया पोल बनाने की नई सुविधा जुड़ गई है । यानी कि आप अब किसी विषय मे लोगों से उनके विचार जान सकते है पोल के माध्यम से जान सकते हैं। एक और सुविधा इंक्लोसर के नाम से भी है पर वह मुझे समझ नही आई ।
आप खुद ब्लॉगर की साईट मे जाकर इसे देखें ।
मैंने एक सर्वे शुरू किया है, उसमे भाग ज़रूर लीजिये । हिंदी ब्लोग मे शुरू कराने का प्रयास किया तो डेट टाइम को गलत बता रहा था और इसीलिये मैंने उसे अपने अंग्रेजी ब्लोग मे लगा दिया ।
पोल मे भाग लेने के लिए यहाँ क्लिक करें ।

अन्य पोस्टें :

रियल प्लेयर ११ बीटा ||| नई खूबियों के साथ

क्या ओपन सोर्स आपकी हर ज़रूरत को पूरा कर सकता है ?

डेमोक्रेसी प्लेयर लाजवाब

नार्टन ३६० वाकई जोरदार है

मैक का सफारी अब आपके विन्डोज़ के लिए

मंगलवार, 3 जुलाई 2007

रियल प्लेयर ११ बीटा ||| नई खूबियों के साथ

रियल प्लेयर का नया वर्जन ११ अपनी नई खूबियों के साथ हाजिर है। अभी ये बीटा संस्करण मे है। अब ये वीडियो डाउनलोड के नए फीचर के साथ आया है। मतलब आप अब किसी वेब साईट मे से अगर कोई स्ट्रीमिंग वीडियो दौंलोअद करना चाहते हैं तो आपको वहीं वीडियो के ऊपर डाउनलोड वीडियो का विकल्प मिल जाएगा। जैसे यूं ट्यूब के वीडियो को अगर डाउनलोड करना हो तो जब आप वीडियो देख रहे होंगे तो आपको उसके ऊपर एक डाउनलोड वीडियो का बटन दिखेगा। आप जैसे ही वहाँ क्लिक करेंगे वह वीडियो डाउनलोड होना शुरू हो जाएगा। आप इस वीडियो को बाद मे रियल प्लेयर पर प्ले करके देख सकेंगे।

लेकिन ये सुविधा केवल इन्टरनेट एक्सप्लोरर और फायर फॉक्स के उपयोगकर्ताओं को ही मिल पायेगी ।
ऑपेरा, सफारी और अवंत ब्राउज़र मे ये डाउनलोड की सुविधा नही है । रियल प्लेयर FLV फार्मेट मे वीडियो को सेव करता हैं। और ये वीडियो मे कंप्यूटर प्लेयर या। फिर रियर प्लेयर मे देखे जा सकते हैं। और तो और आप स्ट्रीमिंग मीडिया को इसके रिकॉर्ड बटन से रिकॉर्ड भी कर सकते हैं। एक गड़बड़ बात ये है कि ये इन रिकॉर्ड की हुई फाइलों को IVR(Internet Video Recording) Format मे सेव करता है । मुझे इस बात की जानकारी नही है कि कोई अन्य प्लेयर इस आई वी आर फॉर्मेट को सपोर्ट करता है।

अभी डाउनलोड करें : http://www.download.com/RealPlayer/3000-2139_4-10704601.html?tag=dl-ब्लोग

अन्य पोस्टें :
क्या ओपन सोर्स आपकी हर ज़रूरत को पूरा कर सकता है ?
डेमोक्रेसी प्लेयर लाजवाब
नार्टन ३६० वाकई जोरदार है
मैक का सफारी अब आपके विन्डोज़ के लिए

सोमवार, 2 जुलाई 2007

क्या ओपन सोर्स आपकी हर ज़रूरत को पूरा कर सकता है ?

आजकल जिसे देखो वही ओपन सोर्स की बड़ाई और माइक्रोसॉफ्ट को नीचा दिखने की कोशिश करता है।
कुछ ऐसा इसलिये करते हैं क्यूंकि विन्डोज़ विस्टा मे माइक्रोसॉफ्ट ने काफी कुछ ऐपल से कापी किया है।
या फिर इसलिये कि विन्डोज़ विस्टा की कीमत ज्यादा है।

अगर आप प्रोफेशनल हिसाब से कोई काम करना चाहते हैं तो क्या आप वो काम लीनक्स मे कर सकते हैं जैसे अच्छी क्वालिटी की वीडियो एडीटिंग या फिर एनीमेशन ।

अगर आप एक होम यूजर हैं तो जाहिर सी बात है कि आप म्यूजिक फोटो आदि का शौक़ रखते होंगे और आपके पास इनका एक बड़ा कलेक्शन है तो आप इन्हें विन्डोज़ विस्टा मे या एक्स पी मे मैनेज बेहतर कर सकते हैं । और ये तेज़ी से होता है ।

क्या आप एडोबी के कोई एप्लीकेशन लीनक्स मे चला सकते हैं जैसे आफ्टर ईफेक्ट्स आदि?

आफिस २००७ आपका काम ज़्यादा खूबसूरती और तेज़ी से कर सकता है या फिर ओपन ऑफिस २.२

रही बात सिक्यूरिटी की तो आप विन्डोज़ विस्टा के साथ एंटी वायरस का प्रयोग कीजिये मुझे नही लगता कि आपको परेशान होना पड़ेगा।

ये बात मैं इसलिये कह रहा हूँ क्यूंकि मैंने ज्यादातर लोगों से माइक्रोसॉफ्ट की बुराई और ओपन सोर्स से बड़ाई सुनी है।

हलाकि लीनक्स ने फ्री मे जो कुछ किया है वो अपने आप मे काबिले तारीफ है पर अभी भी ये फ्री की तरह ही है ।