रविवार, 7 अक्तूबर 2007

अब इन्टरनेट एक्सप्लोरर ७ सबके लिये (पायरेटेड विंडोज के लिये भी)

माइक्रोसाफ़्ट ने ये घोषणा की है कि अब इन्टरनेट एक्सप्लोरर ७ को डब्लू जी ए से मुक्त किया जा रहा है और ये विंडोज़ की हर कापी पर इन्सटाल किया जा सकता है(पायरेटेड विंडोज़ पर भी)

एक साल पहले जब आई ई ७ विन्डोज एक्स पी (एस पी२) के लिये लांच हुआ था तब ये केवल उन्ही कम्प्यूटरों पर इन्स्टाल हो सकता था जिनमे असली विन्डोज़ डला होता था. इसे इन्स्टाल करने के पहले कम्प्यूटर को डब्लू जी ए टेस्ट से गुजरना पड़ता था जो कि विंडोज का एन्टी पायरेसी कम्पोनेंट है.

माइक्रोसाफ़्ट का कहना है कि इंटरनेट एक्सप्लोरर ७ सबसे ज़्यादा सुरक्षित ब्राउजर है. इंटरनेट एक्सप्लोरर ६ विन एक्सपी के साथ आया . पिछले ११ महीनो मे इसे २२ खामियों से मुक्त किया गया जिसमे से २० खामियां ज्यादा खतरनाक थीं. वही इंटरनेट एक्सप्लोरर ७ मे १३ खामियां पाई गई. उन खामियों को भी ठीक किया गया. इस खामियों मे से १० खतरनाक थी.

यह पहली बार है जब माइक्रोसाफ़्ट ने अपने किसी महत्वपूर्ण उत्पाद से डब्लू जी ए हटाया है. पर ये अन्य उत्पादों जैसे कि विंडोज मीडिया प्लेयर ११ और विंडोज डिफ़ेंडर मे रहेगा. लोगों का कहना है कि फ़ायर फ़ाक्स ने इंटरनेट एक्सप्लोरर का काफ़ी हिस्सा हथिया लिया है इसी वजह से माइक्रोसाफ़्ट को ये कदम उठाना पड़ रहा है.

2 टिप्‍पणियां:

  1. हम्म अच्छी बात है ये तो, वैसे भी लोग क्रैक्स का इस्तेमाल करके आई ई प्रयोग कर ही रहे थे।

    उत्तर देंहटाएं
  2. संजय बेंगाणी7/10/07, 10:52 am

    यह भी सही है.

    उत्तर देंहटाएं